life
life
+
+
thecindercone:

Waking up on the platform 
+
+
"

मेरी सारी ज़िन्दगी मुझे ऐसी लगती है
जैसे मैंने तुम्हे एक ख़त लिखा हो।
मेरे दिल की हर धड़कन एक अक्षर है,
मेरी हर साँस जैसे कोई मात्रा,
हर दिन जैसे कोई वाक्य
और सारी ज़िन्दगी जैसे एक ख़त।
अगर कभी यह ख़त
तुम्हारे पास पहुँच जाता,
मुझे किसी भी भाषा के शब्दों की मोहताजी न होती।


My entire life seems like a letter I have written for you.
Each heartbeat a consonant, each breath a vowel, every day like a sentence… And all life- a letter.
If ever, this letter were to reach you,
I won’t have to depend on the words of any language.

"
Amrita Pritam  (via honeyandelixir)
+
+
+
+
disgusted:

☠vintage blog☠


☆indie blog here☽
+
+